लखीमपुर खीरी कांड - भाग, 2 सिख गैर सिख विभाजन के साथ किसान आंदोलन में हिंसा भड़काने की थी बड़ी साजिश
पुरुषोत्तम शर्मा आंदोलनकारी किसानों के हत्याकांड की इस साजिश को अंजाम देने के साथ ही गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी और उनके पुत्र आशीष मिश्रा ने इस क्षेत्र में सिख-गैर सिख विभाजन के आधार पर बड़े पैमाने पर हिंसा को संगठित करने और इस तरह किसान आंदोलन से निपटने की रणनीति बनाई थी. इसके लिए पहले से ही …
चित्र
लखीमपुर खीरी कांड – किसान आंदोलन से निपटने का सत्ता संरक्षित नया क्रूर फार्मूला
पुरुषोत्तम शर्मा   सरकार द्वारा लखीमपुर ,  पीलीभीत ,  शाहजहांपुर जिलों की इंटरनेट सेवा बंद कर देने के कारण मैं तीन दिन बाद लखीमपुर खीरी दौरे की तस्वीरें साझा कर पाया.  3  अक्टूबर की शाम साढ़े चार बजे उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले स्थित तिकोनिया में अंजाम दिए गए किसानों के इस जघन्य हत्याकांड की ख…
चित्र
भारत बंद की तैयारी के लिए बिहार में किसान संगठनों कन्वेंशन
राजेंद्र पटेल * खेती से लेकर सरकारी उपक्रमों को बेचने  पर आमादा है मोदी सरकार -- राजाराम सिंह, प्रभारी, A I K S C C , बिहार पटना,11सितंबर, 2021 तीनों कृषि कानून एवं बिजली विधेयक 2021 को निरस्त करने, MSP गारंटी का कानून बनाने और हर किस्म के कृषि कर्ज को माफ करने की मांग पर किसान संगठनों द्वारा…
चित्र
केंद्र द्वारा घोषित रबी फसल की एमएसपी में 4 प्रतिशत की कमी
संयुक्त किसान मोर्चा  आज केंद्र सरकार ने "एमएसपी में अब तक की सबसे बड़ी वृद्धि", "किसानों के लिए असाधारण उपकार", आदि की बयानबाजी के साथ रबी फसलों के लिए एमएसपी की दिखावटी घोषणा की। हालांकि, तथ्य यह है कि सरकार ने वास्तविक रूप से रबी फसलों के एमएसपी को कम कर दिया है। जबकि खुदरा …
चित्र
देश बचाने को मुजफ्फरनगर में उमड़ा किसानों का जन सैलाब
पुरुषोत्तम शर्मा 5 सितम्बर 2021 को उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर के जीआईसी मैदान में संयुक्त किसान मोर्चा ने ऐतिहासिक किसान मजदूर महापंचायत का आयोजन किया. संयुक्त किसान मोर्चा की इस रैली के लिए 4 सितम्बर की दोपहर बाद से ही किसानों का हुजूम मुजफ्फरनगर रैली स्थल की ओर…
चित्र
संयुक्त किसान मोर्चा के ‘राष्ट्रीय कन्वेंशन’ में पारित प्रस्ताव
संयुक्त किसान मोर्चा के 26-27 अगस्त 2021 को सिंघु बार्डर पर आयोजित ‘राष्ट्रीय कन्वेंशन’ में कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किए गए। इस कन्वेंशन ने तीन कॉरपोरेट पक्षधर कृषि कानूनों, नया बिजली बिल 2021 और एनसीआर व पड़ोसी क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता आयोग अधिनियम को वापस लेने तथा सभी कृषि उपजों का स्वामीना…
चित्र